national

अशांत जम्मू-कश्मीर, आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर इंटरनेट सेवा बंद

सौ.गूगल

जम्मू-कश्मीर की आवाम आंतकवादियों और अलगावादियों के बीच दो पाटों में पिस रही है. आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर घाटी एक बार फिर अशांत है. स्थिति तनावपूर्ण है. और माहौल ख़राब.

दरअसल जम्मू-कश्मीर में बुरहान वानी की बरसी को लेकर अलगावादियों ने रविवार यानी आज हड़ताल का ऐलान किया था. इसे देखते हुए एक दिन के लिए अमरनाथ यात्रा रोक दी गई है. कानून व्यव्स्था बनी रहे इसके लिए प्रशासन ने भी एहतियाती कदम उठाए हैं. जिसके बाद घाटी में मोबाइल इंटरनेट सेवा सस्पेंड कर दी गई है. इतना ही नहीं संवेदनशील जगहों दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल कस्बे और श्रीनगर के नौहट्टा और मैसुमा इलाके पर अधिका पुलिस बल तैनात है.

बुरहान वानी का एनकाउंटर

दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के कोकरनाग इलाके में 8 जुलाई 2016 को हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों  ने वानी को मार गिराया था. उसकी मौत के बाद घाटी में बड़े पैमाने पर हिंसक प्रदर्शन हुए थे और लंबे समय तक कर्फ्यू लगा रहा था.

/* ]]> */