AAP BJP Congress Indian Politics Latest State

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शीला दीक्षित ने दी अरविन्द केजरीवाल को सलाह

सुप्रीम कोर्ट

बुधवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल के बीच अधिकारों को लेकर दिए गए फैसले के बाद दिल्ली की पूर्व मुख्समंत्री शीला दीक्षित ने केजरीवाल को सलाह देते हुए कहा है कि, सुप्रीम कोर्ट का फैसला केजरीवाल के हक़ में है और अब उनको केंद्र के साथ तालमेल बिठाकर जनहित के कार्यों पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

शीला ने कहा कि, “ मेरा मानना है कि उच्चतम न्यायालय ने स्थिति स्पष्ट कर दी है । संविधान की धारा 239 (एए)के अनुसार दिल्ली पूर्ण राज्य नहीं है और अन्य राज्यों की तुलना में यहां बड़ा अंतर है। दिल्ली केंद्र शासित प्रदेश है। यदि यहां दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल मिलकर काम नहीं करेंगे तो इस तरह की दिक्कतें आयेंगी। कांग्रेस ने दिल्ली में 15 साल तक शासन किया किंतु कभी भी टकराव की स्थिति नहीं बनी ।”

शीला दीक्षित ने कहा “ यदि मुख्यमंत्री को लगता है कि यह फैसला उनकी जीत है, तो अब उन्हें काम करके दिखाना चाहिए।”

गौरतलब है कि, सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की पीठ ने दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल के अधिकारों को लेकर फैसला सुनाते हुए कहा कि, जमीन और पुलिस छोड़कर राज्य सरकार सभी फैसले ले सकती है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि उपराज्यपाल कोई फैसला लेने के लिए स्वतंत्र नहीं हैं, इसके लिए उन्हें कैबिनेट की सलाह लेनी होगी. हालांकि, इस बात पर सवाल उठता है कि पिछले तीन साल से जारी तल्खी के बाद क्या उपराज्यपाल हर फैसले पर उनकी सलाह मांगेंगे।

/* ]]> */