mukhya khabar

राफेल डील को लेकर राहुल गांधी मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ाने जा रहे हैं, जानिए कैसे

विमान बनाने वाली कंपनी Hindustan Aeronautics Limited (HAL) ने 10 हजार लोगों को कंपनी से हटाने का फैसला लिया है. कंपनी का ये फैसला राफेल डील नहीं मिलने के बाद लिया गया है. आपको बता दें कि कंपनी में करीब 30 हजार लोग नौकरी करते हैं. और इस डील के रद्द होने के बाद करीब 10 हजार लोगों को निकाला जा रहा है. इसी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 13 अक्टूबर को कर्नाटक के बेंगलुरु में कैंडल मार्च निकालेंगे. राहुल गांधी कर्नाटक कांग्रेस के दफ्तर से HAL के ऑफिस तक मार्च निकालेंगे और मोदी सरकार पर निशाना साधेंगे.

इतना ही नहीं राहुल गांधी 13 अक्टूबर को HAL के कर्मचारियों से मुलाकात भी करेंगे. गौरतलब है कि राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि उन्होंने HAL से डील छीन कर रिलायंस के हवाले कर दी है.

राफेल विमान डील के मुद्दे पर केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट से झटका मिलने के बाद अब कांग्रेस मोदी सरकार को घेरने में जुट गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ फ्रंटफुट पर लड़ाई लड़ रहे हैं. अब उन्होंने इस मुद्दे को Hindustan Aeronautics Limited (HAL) के कर्मचारियों की बेरोजगारी से जोड़ दिया है.

जानकारी हो कि सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को राफेल डील के मुद्दे पर सुनवाई हुई. इस सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा है कि आखिर राफेल डील कैसे हुई और इसका पूरा घटनाक्रम क्या था. मामले पर अगली सुनवाई अब 31 अक्टूबर को होगी.

/* ]]> */