Health & Fitness Latest World

वर्ल्ड टीबी डे पर लोगों को ट्यूबरकुलोसिस से जागरूक होने की जरूरत

ट्युबरक्यूलोसिस को वैसे तो गंभीर बीमारी के तौर पर देखा जाता है, लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी टीबी के मरीजों की संख्या हर साल बढ़ती जा रही है। इसी वजह से WHO की ओर से पूरी दुनिया में हर साल 24 मार्च को वर्ल्ड टीबी डे मनाया जाता है।

24 मार्च को वर्ल्ड टीबी डे मनाने का मकसद इस रोग के प्रति जागरूकता बढ़ाना है। वैसे तो टीबी लाइलाज बीमारी नहीं है लेकिन अगर इसके इलाज में लापरवाही हो जाए तो ये जानलेवा भी साबित हो सकती है।

Image result for टीबी

टीबी बैक्टीरिया से होने वाली बीमारी हैं

टीबी बैक्टीरिया से होने वाली बीमारी है, जो हवा के जरिए एक इंसान से दूसरे  इंसान में फैलती है। शरीर में ये बीमारी आमतौर पर फेफड़ों से शुरू होती है। देश में सबसे ज्यादा फेफड़ों के ही टीबी मरीज हैं। हालांकि टीबी ब्रेन, यूटरस, मुंह, लीवर, किडनी, गला, हड्डी आदि शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती हैं।  फेफड़ों के अलावा जितनी भी तरह की टीबी होती है वह एक से दूसरे में फैलने वाली नहीं होती। 

टीबी से कैसे करें बचाव

  • टीबी की बीमारी से बचने का सबसे आसान तरीका है कि इम्यूनिटी मजबूत करना। 
  • कम रोशनी वाली जगहों पर जाने से बचें।
  • अच्छा न्यूट्रिशन वाला खाना खाएं
/* ]]> */