dharam Latest mukhya khabar

आ रही हैं अम्बे माता ,जानें कब से शुरू है नवरात्री

 अक्टूबर महीने से शुरु होने जा रहे है मां अम्बे की उपासना के शुभ नौ दिन, नवरात्र। नौ दिनों में माता रानी के नौ अलग रूपों की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। साल में यु तो नवरात्र चार बार आते है दो गुप्त जो तंत्र साधना के लिए होता है और दो जो मुख्य रूप से मनाये जाते हैं। नवरात्री के दसवें दिन विजयादशमी मनाया जाता है।

कैसे हुए नवरात्री की शुरुआत ?

ऐसा कहा जाता है की नवरात्री की शुरुआत भगवान राम ने की थी। लंका पर जीत हासिल कर प्रभु श्री राम ने समुद्र के किनारे नौ दिनों तक मां शक्ति की उपासना की थी। तभी से नवरात्री मनाने की परम्परा शुरू हो गयी।

क्या है नवरात्री का महत्व

हिन्दुओं में इन नौ दिनों का अत्यंत विशेष महत्व है। साल भर में चार बार नवरात्र आते है। चैत्र और आश्विन माह वाले नवरात्र सबसे ज्यादा मनाये जाते हैं। इसके अलावा आषाढ़ और माघ वाले नवरात्र गुप्त होते है। इनमें तंत्र पूजा विशेष होती है। देवी मां को प्रसन्न करने के लिए इस दौरान पूजा की जाती है। मगर सिद्धि और साधना के लिए शारदीय नवरात्र का विशेष महत्व है।

गुप्त नवरात्र को मनाया नहीं जाता इनमें केवल तंत्र साधना की जाती है। आने वाले नवरात्र के दसवें दिन दशहरा मनाया जाता है।नवरात्री में सभी तरह के शुभ कार्य किये जाते है। ये नौ दिन अत्यंत शुभ माने जाते हैं और कोई भी शुभ काम के लिए किसी विशेष मुहूर्त की ज़रूरत नहीं। इन सभी नौ दिनों में गृह प्रवेश, नयी खरीदारी ,मांगलिक कार्य किये जा सकते हैं।

 

10 अक्टूबर- नवरात्रि का पहला दिन- घट/ कलश स्थापना – मां शैलपुत्री 
11 अक्टूबर- नवरात्रि का दुसरा दिन – मां  ब्रह्मचारिणी   
12 अक्टूबर- नवरात्रि का तीसरा दिन- मां चंद्रघंटा    

13 अक्टूबर- नवरात्रि का चौथा दिन- मां  कुष्मांडा       
14 अक्टूबर- नवरात्रि का पांचवा दिन- मां स्कंदमाता 
15 अक्टूबर- नवरात्रि का छठा दिन-मां कात्यायनी 
16 अक्टूबर- नवरात्रि का सातवां दिन-मां कालरात्रि
17 अक्टूबर- नवरात्रि का आठवां दिन-मां महागौरी, दुर्गा अष्टमी ,नवमी पूजन
18 अक्टूबर- नवरात्रि का नौवां दिन-मां सिद्धीदात्री,  नवमी हवन, नवरात्रि पारण
19 अक्टूबर-  दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी या दशेहरा

/* ]]> */