Latest mukhya khabar national Politics Politics

पकड़ा गया PM मोदी का झूठ! जानें क्या है पूरा मामला

PM मोदी

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वच्छता अभियान के ‘स्वच्छता ही सेवा है’ पखवाड़े का शुभारंभ करते हुए देश के सामने कुछ ऐसे तथ्यों को रख दिया जो किसी भी मायने में देश की जनता के गले नहीं उतर रहे हैं।

दरअसल, कार्यक्रम के मौके पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने भारत को शौच मुक्त करने की दिशा में बनाये गये शौचालयों को लेकर कुछ आंकड़े जनता के सामने रखे।  इस दौरान मोदी ने कहा

क्या कोई ये सोच सकता था कि भारत में 4 वर्षों में करीब 9 करोड़ शौचालयों का निर्माण हो जाएगा? क्या किसी ने ये कल्पना की थी कि 4 वर्षों में लगभग 4.5 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे?”

क्या किसी ने कल्पना की थी कि 4 वर्षों में 450 से ज्यादा जिले खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे? क्या किसी ने कल्पना की थी कि 4 वर्षों में 20 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे? यह भारत और भारतवासियों की ताकत है

लेकिन प्रधानमंत्री द्वारा शौचालय को लेकर किये दावों में कितनी सच्चाई है वो इन आंकड़ों से आप पता लगा सकते हैं। आंकड़ें बताते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी ने जो संख्या जनता को बताई उसके हिसाब से हर मिनट में 42 शौचलयों का निर्माण किया गया। जो कि भारत जैसे देश में ऐसा किसी भी कीमत में संभव नहीं है।

प्राप्त आंकड़ों के अनुसार

4 वर्ष =1460 दिन = 9 करोड़ शौचालय

9करोड\1460दिन=61643 शैचालय

प्रति दिन 61643\24 धंटे= 2568शौचलय

प्रति धंटा 2568\60 मिनट= 42 शौचलय प्रति मिनट

42\60 सेकेंड=.70 शौचालय प्रति सेकेंड

/* ]]> */