Health & Fitness Latest State

जानिए क्यों ,दिल्ली में हर साल बढ़ता जा रहा है टीबी का अांकड़ा

दिल्ली में हर साल (टीबी)  से पीड़ित  55,000 से 57,000  नए मरीज सरकारी अस्पतालों में आते हैं और ये आंकड़ा दुनियाभर में रोजाना तीन करोड़ से ज्यादा है। ये वो आंकड़े जो  सिर्फ सरकारी अस्पताल पहुंचने वाले मरीज के हैं, लेकिन देशभर में अनेक ऐसे मरीज हैं जो छोटे-निजी अस्पताल तक ही पहुंच पाते हैं या अस्पताल नहीं भी पहुंच पाते हैं।

Image result for सरकारी अस्पतालों

टीबी कोई लाइलाज बीमारी नहीं हैं ,बस लोगो को जागरूक होने की जरूरत है। टीबी के इलाज के लिए कई आधुनिक तरीके व दवाइयां आ गई हैं, जिनसे कम समय में आसानी से इलाज हो पाता है। सबसे पहले जरूरी है कि मरीज अस्पताल पहुंचे और उसका इलाज जल्द हो और उचित दवाई दी जाए।
 

टीबी से बचने के लिए बच्चों को बीसीजी का टीका दिया जाता है, लेकिन वयस्कों के लिए अब तक कोई टीका नहीं आया है।
“टीबी के टीके पर अभी शोध व परीक्षण कार्य चल रहा है, उम्मीद है कि जल्द टीके भी आ जाएंगे, जिससे इसे काबू करना आसान हो जाएगा।”

 

/* ]]> */