Latest national

आईए जानते हैं कौन थे भय्यू जी महाराज

भय्यू जी

-भय्यू जी महाराज का जन्म 1968 में शुजालपुर के ज़मीदार के परिवार में हुआ था।

-उनका असली नाम उदय सिंह देखमुख है।

-वो कपड़ों के एक ब्रांड के लिए कभी मॉडलिंग भी कर चुके हैं।

-भय्यू जी महाराज तब चर्चा में आए थे जब 2011 में अन्ना हजारे के अनशन को खत्म करवाने के लिए तत्कालीन केंद्र सरकार ने उन्हें अपना दूत बनाकर भेजा था। इसी के बाद ही अन्ना ने उनके हाथ से जूस पीकर अनशन तोड़ा था।  

-वहीं पीएम बनने के पहले गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी सद्भावना उपवास पर बैठे थे। उस उपवास को तुड़वाने के लिए उन्होंने भय्यू महाराज को आमंत्रित किया था।

-4 अप्रैल 2018 को भय्यू जी महाराज को शिवराज सिंह चौहान ने राज्यमंत्री का दर्जा ऑफर किया था, लेकिन उन्होंने उसे अस्वीकार करते हुए कहा “संत के लिए पद महत्वपूर्ण नहीं होता”।

भय्यू जी महाराज के फॉलोअर्स आम आदमी के साथ-साथ हाईप्रोफाइल राजनेता भी थे।

-ख़बरों के अनुसार कांग्रेस, एनसीपी और बीजेपी के नेताओं के साथ पिछले 17 साल से महाराज के अच्छे संबंध थे। इनमें पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, उद्धव ठाकरे, राज ठाकरे प्रमुख थे।

हाल ही में ग्वालियर की डॉ. आयुषी शर्मा के साथ साथ फेरे लिए थे।

-भय्यू जी महाराज का सद्गुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट स्कॉलरशिप बांटना, कैदियों के बच्चों को पढ़ाना, किसानों को मुफ्त खाद बीज बांटने का काम करता है।

-अप्रैल 2016 से भय्यू जी महाराज ने सार्वजनिक जीवन से सन्यास ले लिया था।

-भय्यू जी महाराज का आश्रम इंदौर में स्थित है। वहीं, मर्सडीज जैसी महंगी गाड़ियों में चलने वाले भय्यू महाराज रॉलेक्स ब्रांड की घड़ी पहनते थे. आलीशान भवन में रहते थे.

/* ]]> */