BJP Congress national Politics Politics State

कर्नाटक की सियासत में आया फ़र्जी आईडी कार्ड का भूचाल

कर्नाटक

कर्नाटक की सियासत में मंगलवार को उस वक्त भूचाल आ गया जब यहां के एक मकान से भारी संख्या में वोटर आईडी कार्ड बरामद हुए। इतनी बड़ी संख्या में वोटर आई कार्ड के मिलने के बाद कर्नाटक से लेकर दिल्ली की सियासत में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरु हो गया। देश के दो सबसे बड़े दल एक दूसरे को इसके लिए जिम्मेदार ठहराने लगे। इतना ही नहीं बात इतनी बढ़ गई कि मंगलवार देर रात तक दोनों ही पार्टियों की ओर से ताबड़तोड़ प्रैसवार्ता कर न सिर्फ अपनी-अपनी पार्टी का बचाव किया बल्कि चुनाव को रद्द करने तक की मांग कर डाली।

ये है पूरा मामला

दरअसल, चुनाव आयोग को गुप्त सूचना मिली थी के बेंगलुरु के राज राजेश्वरी निर्वाचन क्षेत्र के जलाहल्ली इलाक़े के फ्लैट नम्बर 115 में आईडी कार्ड कार्ड बनाने का कार्य किया जा रहा है। सूचना मिलने के बाद जब इलेक्शन कमीशन की टीम ने इस फ्लैट पर छापेमारी की तो वहां का नज़ारा देख इलेक्शन कमीशन विभाग की टीम के पैरों तले ज़मीन खिसक गई। विभाग की टीम ने यहां से 9746 वोटर आईडी कार्ड बरामद करने के साथ ही प्रिंटर और कंप्यूटर भी बरामद किया। हांलाकि इस मामले पर चुनाव आयोग ने तुरंत संज्ञान लेते हुए जांच कराने के आदेश दे दिए हैं।

इस संबध में कर्नाटक के मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजीव कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि 9746 मतदाता पहचान पत्र असली लग रहे हैं और उन्हें छोटे पैकेट में रखा गया है और उनपर पता और नाम दर्ज है।

 

ऐसे शुरु हुई राजनीति

लेकिन इस मामले में राजनीति उस वक्त शुरु हो गई जब बीजेपी नेता सदानंद गौड़ा ने आरोप लगाया है कि इस फर्जीवाड़े के पीछे राजराजेश्वरी नगर से कांग्रेसी उम्मीदवार मुनिरत्ना नायडू का हाथ है। इसके साथ ही उन्होंने चुनाव आयोग से चुनावों को निरस्त करने की मांग भी।

बीजेपी द्वारा कांग्रेस पर आरोप लगाने के बाद कांग्रेस की और से भी एक बयान सामने आया। कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रेस कांफ्रेंस करके इस पूरे मामले पर पार्टी का पक्ष रखते हुए कुछ दस्तावेज भी दिखाए, जिसमें उन्होंने कहा कि इस लिस्ट में भाजपा उम्मीदवार मंजुला नंजमुरी का नाम दर्ज हैं जोकि एचएमटी वार्ड से उम्मीदवार थीं और जलहाल्ली के फ्लैट नंबर 115 में रहती थीं।

आपको बता दें कि, 12 मई को कर्नाटक चुनाव होने हैं इन चुनावों के प्रचार के लिए महज़ एक दिन शेष है ऐसे में सभी दल जनता को किसी भी सूरत में अपनी ओर आकृषित करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं।

 

/* ]]> */