Bollywood infotainment Movie Review

सफलता की उड़ान से चूकी फिल्म हेलीकाप्टर ईला -फिल्म रिव्यु

इस हफ्ते रिलीज़ हुई काजोल की होम प्रोडक्शन फिल्म हेलीकाप्टर ईला। काजोल एक बेहतरीन एक्ट्रेस है इसमें कोई दो राय नहीं मगर उनकी ये फिल्म अपनी कमज़ोर कहानी के वजह से सफलता की उड़ान लेते नहीं दिखती। एक सिंगल मदर और उसके बेटे के बीच के भावुक रिश्ते पर बेस्ड ये फिल्म पहले ही दिन डूबती नज़र आ रही है। प्रदीप सरकार की ये फिल्म गुजरती प्ले बेटा कागदो से इंस्पाइरेड है। हालाँकि इस पूरी फिल्म में आपको काजोल की शानदार एक्टिंग देखने को मिलेगी मगर फिल्म की कमज़ोर कहानी ने फिल्म का पूरा मज़ा किरकिरा कर दिया। काजोल के बेटे के रोल में ऋद्धि सेन ने भी काफी मेहनत की हैं। 

कहानी
इस फिल्म की स्टार्टिंग में आपको एक सिंगल मदर दिखती हैं जिसे अपने बेटे की हर पल चिंता बनी रहती है। इस सिंगल मदर ईला के करैक्टर के लिए फिल्म में आपको फ्लैशबैक भी दिखेंगे जहां उसका सपना एक सक्सेसफुल गायिका बनने का नज़र आएगा। ईला कामयाब होने के कगार पर होती हैं लेकिन घर बसाने के आईडिया उनके एम्बिशन को तोड़ सकता है और फिर कहानी में ट्विस्ट आया जिसके वजह से ईला बन जाती हैं एक सिंगल मदर। लेकिन इसकी पूरी कहानी के लिए आपको ये मूवी देखनी पड़ेगी।

फिल्म और किरदार
फिल्म की शुरुआत तो बहुत मज़ेदार तरीके से होती है मगर कहानी के आगे बढ़ते बढ़ते कहानी बोझिल लगने लगती है। फिल्म का फर्स्ट हाफ ईला के किरदार को दर्शाता है वही सेकंड हाफ कहानी को खींचती दिखती है। काजोल का किरदार काफी एंटरटेनिंग है जो आपको हंसाता भी है और इमोशनल भी क्र। लेकिन अच्छी स्क्रिप्ट की कमी के कारण फिल्म एंटरटेनिंग नहीं है।

म्युज़िक
इस फिल्म के गानों को अमित त्रिवेदी और राघव सचर ने तैयार किया है। फिल्म में मौजूद सभी गाने आकर्षक है लेकिन विशेषकर यादों की अलमारी गाना बहुत इम्पैक्टफुल है

ये फिल्म वीकेंड पर टाइम पास करने के लिए अच्छा ऑप्शन है अगर आपके पास वाकई कोई काम ना हो और अगर आप काजोल के बहुत बड़े वाले फैन है और उनकी कोई मूवी मिस नहीं करते तो सिर्फ उनकी एक्टिंग के लिए ये फिल्म देख सकते हैं।

रेटिंग्स -2 / 5

 

Bhagyashree

Infotainment Desk

 

 

/* ]]> */