Bollywood infotainment Latest

ग्रेटर नोएडा के गलगोटिया यूनिवर्सिटी में फिल्म ‘मनमर्जियां’ की स्टारकास्ट ने किया प्रमोशन

 अपनी नयी फ़िल्म ”मनमर्जियां” के प्रोमोशन के लिये इस फ़िल्म के सभी कलाकारों ने ईरोज कम्पनी के द्वारा रखे गये एक विशेष कार्यक्रम में ग्रेटर नोएडा  के गलगोटियास विश्वविद्यालय के प्रांगण में ईरोज कम्पनी के सजे हुए रंगमंच पर पहुंच कर अपनी प्रतिभा का बहुत ही ज़ोरदार ढंग से प्रदर्शन किया। 
सबसे पहले मंच पर फ़िल्म के गायक कलाकारों में हर्षदीप कौर, साहिद मालिया, ज्योति नूरन ने अपनी आवाज़ के जादू से ऐसा समा बांधा कि लोग देखते ही रह गये। वहां पर उपस्थिति हज़ारों विद्यार्थियों की भीड़ ने जमकर ख़ूब लुफ़्त उठाया। साथ-साथ हूटिंग भी होती रही और ख़ूब तालियां भी बजती रहीं। मनमर्जियां फ़िल्म के लगभग सभी गाने कलाकारों ने अपनी सुरीली आवाज़ और अपने मस्ती भरे अन्दाज़ में सुनाकर इस अनूठे कार्यक्रम की एक ज़ोरदार शुरूआत की। 
उसके बाद अब इन्तज़ार हो रहा था फ़िल्म के हीरो और हीरोइन के मंच पर आने का वहां पर सभी अपनी सांसें रोके बेसब्री से उस पल का इन्तज़ार कर ही रहे थे कि बस फिर क्या था फिल्म के नायक और नायिका अपने-अपने एक अलग अंदाज में मंच पर आ पहुंचे।  पहले विक्की कौशल फिर अभिषेक बच्चन और फ़िल्म की नायिका तापसी पन्नु जब मंच पर आये तो चारों तरफ़ कैमरों की फ़्लैसें चमक उठीं और छात्रों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका बहुत ही ज़ोरदारी के साथ स्वागत किया।
उन्होंने भी हज़ारों की उस अपार भीड़ को देख कर विद्यार्थियों का तहे-दिल से धन्यवाद करते हुए कहा कि इतनी बड़ी भीड़ पहले हमने नहीं देखी। आपके इस असीम प्यार के लिये हमारे पास कोई शब्द नहीं। आज हम दिल्ली का धन्यवाद करते हैं। ग्रेटर नौएडा का और आप सभी गलगोटियन्स बहुत-बहुत आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि आप सभी हमारी ये फ़िल्म 14 सितम्बर को 2018 ज़रूर ज़रूर देखने जाना। कृप्या भूल नहीं जाना।
एक विद्यार्थी ने अपने हाथों से बनायी हुई इस फ़िल्म के कलाकारों की एक पेंटिंग अभिषेक बच्चन को सौंपी तो वो बहुत ख़ुश हुए और उनके साथ  फ़ोटो भी ली गयी। फ़िल्म के डायरेक्टर अनुराग कश्यप और प्रोड्यूसर आनन्द एल राय और  संगीत निदेशक अमित त्रिवेदी ने सभी का अभिवादन करते हुए कहा कि आप हमारी इस फ़िल्म को देखने अवश्य जायें। आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद आप सभी इतनी देर तक कार्यक्रम को सुनते रहे उसके लिये आपकी बहुत-बहुत आभार। कार्यक्रम का समापन लगभग देर रात  हुआ।
भगवत प्रशाद शर्मा 
गलगोटियास विश्वविद्यालय 
/* ]]> */