Blogs dharam Latest

दीपों का त्यौहार दीपावली पर कैसे करें पूजा और मुहूर्त का समय,जानें यहां

दिवाली देश का सबसे बढ़ा त्यौहार हैं जो हर साल कार्तिक महीने की अमावस्या को मनाया जाता हैं. ऐसा कहा जाता है कि समुद्र मंथन के दौरान 14 रत्न की उत्पत्ति हुई थी और इन्ही 14 रत्नों में से अमावस्या की रात को मां लक्ष्मी प्रकट हुई थी. जिनको पाने के लिए सभी देवताओं आतुर हो गये परंतु मां लक्ष्मी ने विष्णु जी का वरण किया. इसी वजह से मां लक्ष्मी को पाने हेतु भक्तों द्वारा अमावस्या की रात को दिवाली मनाई जाती हैं और मां लक्ष्मी की पूजा की जाती हैं.

दीपावली 2018 का शुभ मुहूर्त

लक्ष्मी पूजा- शाम 5 बजकर 57 मिनट से 7 बजकर 53 मिनट तक
प्रदोष काल- शाम 5 बजकर 27 मिनट से 8 बजकर 6 मिनट तक
वृषभ काल- शाम 5 बजकर 57 मिनट से 7 बजकर 53 मिनट तक

कैसे करे दिवाली की पूजा

सबसे पहले मां लक्ष्मी और गणेश जी को चौकी पर रखें. ध्यान रहे की उनका मुख पूर्व या पश्चिम दिशा की ओर रहे.

लक्ष्मी माता की प्रतिमा को गणेश जी के दाहिनी ओर रखें.

लक्ष्मी जी के समक्ष तेल का दीपक और गणेश जी के समक्ष घी का दीपक जलाएं.

पूजा करने के लिए उत्तर और पूर्व दिशा की ओर मुंह करके बैठे.

लक्ष्मी माता की पूजा से पहले गणेश जी का ध्यान करे. इससे स्थिर रुप में मां लक्ष्मी का वास आपके घर में हो जाएगा.

लक्ष्मी मां की पूजा के समय लक्ष्मी मंत्र का उच्चारण करते रहें- ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:

पूजन के समय माता को  सिंगाड़ा फल और केसर की खीर का भोग लगाए क्योंकि माता लक्ष्मी को ये बहुत पसंद हैं.

इन सबके साथ खाता पूजन भी करें और धन के देवता कुबेर का भी ध्यान करें.

अपने घर को दिये से प्रज्जवलित कर बाकी घरों में दिया दान करें.

 

Infotainment Desk

 

 

/* ]]> */