delhi ncr

दिल्लीः महंगी होगी AUTO की सवारी, 30 परसेंट की बढ़ोतरी डालेगी जेब पर असर

दिल्ली वालों को अब ऑटो में सफर करने के लिए ज्यादा पैसे देने पड़ेंगे. क्योंकि ऑटो के किराए में 30 परसेंट तक बढ़ोतरी के आसार हैं. और इसकी मंजूरी भी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत, ट्रांसपोर्ट कमिश्नर वर्षा जोशी और ऑटो यूनियन के प्रतिनिधियों के साथ मीटिंग के बाद दे दी.

सौ. गूगल

आईये समझाते हैं पहले और अब में कितना बढ़ जाएगा ऑटो किराया.

अभी जहां बेस फेयर 25 रुपये देना पड़ता है दो किलोमीटर का, वो प्रस्तावित किराए के बाद 25 रुपये बेस फेयर देना होगा 1 किलोमीटर का. यानी ठीक दोगुना…अभी फिलहाल बेस फेयर के बाद 8 रुपये प्रति किलोमीटर लगता है जो किराए में बढ़ोत्तरी के बाद 10 रुपये प्रति किलोमीटर हो जाएगा. इसके अलावा अगर ऑटो वेटिंग में रहता है तो इसका भी 60 रुपये प्रति घंटा के हिसाब से भुगतान करना होगा जो फिलहाल 30 रुपये प्रति घंटा है. यानी साफ है कि सीधा जेब पर असर. और ये प्रस्तावित किराया भी जल्द लागू होने वाला है.

इससे पहले ये प्रस्तावित किराया लागू हो, बढ़े हुए किराए के लिए दिल्ली सरकार एक कमेटी बनाएगी और प्रस्ताव को स्टेट ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (STA) के पास अनुमति के लिए भेजा जाएगा. इसके अलावा ये किराया बढ़ाने की फाइल दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के पास भी जाएगी.

क्यों बढ़ाया जा रहा है किराया

दरअसल ऑटो यूनियन ने किराया बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मीटिंग की थी. और ये मीटिंग इसी साल अप्रैल में हुई थी. जिसमें ऑटो यूनियन के सदस्य उपेंद्र सिंह का कहना है कि दिल्ली में 2013 से ऑटो का किराया नहीं बढ़ा है. मतलब साफ है कि एक तरफ मैट्रो का महंगा किराया, और अब ऑटो का बढ़ता किराया. दिल्ली की जनता की जेब पर सीधा असर करेगा.

 

 

 

Tags
/* ]]> */