Crime Latest mukhya khabar national

अमृतसर: पीड़ित परिजनों का हाल जानने पहुंचे CM अमरेन्दर सिंह, दिया मजिस्ट्रेट जांच आदेश

अमृतसर

अमृतसर रेल हादसे के दूसरे दिन पंजाब के मुख्यमंत्री हादसे में पीड़ित परिजनों से मिलने पहुंचे जहां उन्होंने पीड़ितों को आश्वासन देते हुए कहा कि इस घटना के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा।

इसके साथ ही उन्होंने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए और 4 हफ्तों में जांच प्रक्रिया को पूरी कर आरोपियों के खिलाफ़ कड़ी कार्रवाई की बात कही।

उन्होंने कहा कि ज्यातर शवों की शिनाख्त हो गई है। इस दौरान उनके साथ डी.जी.पी. सुरेश अरोड़ा और कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू भी मौजूद थे।

इस दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए कैप्टन ने घटना के प्रति दुख जताते कहा कि यह दुखदायी घटना है। इस हादसे में अब तक 59 लोगों की मौत हो गई,जबकि 57 के करीब घायल हैं। उन्होंने प्रशासन को पीड़ितों की हर संभव सहायता करने के आदेश दिए है। जब उनसे पूछा गया कि वह हादसे के इतने घंटे के बाद अमृतसर पहुंचे तो उन्होंने कहा कि वह इसराइल दौरे पर जाने वाले थे। जिस समय उन्हें हादसे का पता लगा तो वह दिल्ली में थे।

लोगों ने किया CM का विरोध

मुख्यमंत्री के जोड़ा फाटक पर पहुंचने से पहले लोगों का हुजूम वहां इकट्ठा हो गया। कैप्टन के आने पर लोग उनका विरोध करने लगे। लोगों ने पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। मौके पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने लोगों को घटनास्थल से दूर कर दिया। वहीं, ए.डी.जी.पी. ने मौके का मुआयना भी किया।

लोगों का कहना है कि आखिर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हादसे वाली जगह पर जाने के लिए सुबह तक का इंतजार क्यों किया। तुरंत मौके पर जाकर राहत कार्यों का जायजा क्यों नहीं लिया? घटना के बाद अमृतसर के लोगों में प्रशासन के बुरे प्रबंधों और दशहरा समागम में मौजूद कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ भारी गुस्सा है।

/* ]]> */