mukhya khabar national Politics Politics

मिशन 2019 को लेकर बीजेपी का मेगा प्लान, विपक्ष होगा चारों खाने चित

मिशन 2019

एक ओर जहां 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को रोकने के लिए विपक्ष तरह-तरह के हथकंडे अपना रहा है। वहीं भारतीय जनता पार्टी ने विपक्ष के सारे इरादों को धूल चटाने के लिए मेगा प्लान बनाया है। आपको बता दें कि किसी भी पार्टी को केन्द्र की सत्ता में लाने के लिए उत्तर प्रदेश का बहुत बड़ा हाथ होता है और यही वजह है कि उत्तर प्रदेश को फतह करने के लिए भारतीय जनता पार्टी अपनी पूरी ताक़त सूबे में झौंकने जा रही है।

जानकारी के अनुसार बीजेपी 17 नवंबर से प्रदेश की 80 लोकसभाओं क्षेत्रों में ‘कमल संदेश बाइल रैली निकालेंगी’। मुख्यमंत्री योगी और प्रदेश अध्यक्ष सहित सभी अन्य वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारी और यूपी सरकार के मंत्री बाइक पर सवार होकर रैली में शिरकत करेंगे। यह बाइक रैली हर जिले में अपने शुभारंभ स्थल से निकल कर अलग-अलग विधानसभा क्षेत्र में जाएगी। सीएम योगी खुद भी बाइक पर बैठकर बीजेपी के इस कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे। इसके अलावा दोनों उपमुख्यमंत्री भी बाइक चलाएंगे।

इसके अलावा बीजेपी कार्यालय में सोमवार को हुई अहम बैठक में सभी मंत्रियों को नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिसका मुख्य उदेश्य यूपी की 80 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करना है।

वहीं दिसंबर में बीजेपी पदयात्रा के जरिए गांव-गांव पहुंचेगी। महात्मा गांधी की जयंती के 150वें वर्ष पर पार्टी द्वारा एक दिसंबर से 15 दिसंबर तक प्रदेश के सभी 403 विधानसभाओं में पद यात्रा का आयोजन करेगी। बीजेपी इस पद यात्रा के दौरान प्रत्येक विधानसभा में पार्टी के कम से कम 25-25 कार्यकर्ताओं की 6 अलग-अलग टोलियां बनाकर 150 किलोमीटर पदयात्रा करेंगे।

ये मंत्री यहां करेंगे पार्टी का प्रचार-प्रसार

  • भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्रनाथ पांडे-ः वाराणसी और चंदौली
  • डिप्टी सीएम केशव मौर्य-ः रामपुर, वाराणसी और मैनपुरी
  • डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा-ः आगरा, मुरादाबाद
  • मंत्री सुनील बंसल-ः सहारनपुर, डुमरियागंज 
  • मंत्री एसपी सिंह बघेल-ः बागपत, अलीगढ़ 
  • मंत्री सिद्धार्थनाथ-ः कौशाम्बी
  • मंत्री सुरेश खन्ना-ः गाजियाबाद,
  • मंत्री रीता जोशी-ः सीतापुर, जौनपुर 
  • मंत्री ब्रजेश पाठक-ः गाजीपुर, अंबेडकरनगर 
  • मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या-ः  बस्ती, बदायूं  
  • मंत्री संदीप सिंह-ः  पीलीभीत, सहारनपुर 
  • मंत्री महेन्द्र सिंह-ः गौतमबुद्धनगर 
  • मंत्री श्रीकांत शर्मा-ः  बलिया और फिरोजाबाद 
  • मंत्री रमापति शास्त्री-ः महाराजगंज, 
  • मंत्री गिरीश यादव-ः मिर्जापुर
  • मंत्री आशुतोष टंडन-ः प्रयागराज
  • मंत्री सुरेश पासी-ः एटा
  • मंत्री सतीश महाना-ः गोंडा,
  • जय प्रताप सिंह-ः सुल्तानपुर
  • मंत्री धर्मपाल सिंह-ः  बांदा,गोरखपुर
  • मंत्री सुरेश राणा-ः उन्नाव, फैजाबाद
  • मंत्री अनिल राजभर-ः  सलेमपुर और घोसी
  • मंत्री अनुपमा जायसवाल-ः कुशीनगर और देवरिया
  • मंत्री स्वाति सिंह-ः  प्रतापगढ़ और फूलपुर
  •  मंत्री नंदगोपाल नन्दी-ः  भदोही, रायबरेली
     
/* ]]> */